अभिनव राजस्थान : इतिहास व उद्देश्य

आंदोलन अभिनव ने औपचारिक लोकतांत्रिक प्रक्रिया में हिस्सेदारी करते हुए 2018 में राजस्थान विधानसभा चुनावों में भाग लेने की घोषणा की है। राजस्थान के राजनीतिक इतिहास में यह पहली बार है जबकि कोई गैर सरकारी संगठन पूरी तरह चुनावी प्रक्रिया में उतर रहा है। सांगोपांग के इस राजनीति अंक में हम अभिनव राजस्थान पार्टी, इसके इतिहास, उद्देश्यों व लक्ष्यों को समझने की कोशिश करें।

अशोक चौधरी ने ही 2009 में अभिनव राजस्थान की नींव रखी। उन्होंने यह पहल विशेषकर हमारी मौजूदा शासन व्यवस्था को और अधिक जवाबदेह बनाने के लिए की। संगठन के कार्यकर्ताओं ने इस पहल में सूचना के अधिकार कानून यानी आरटीआई को एक अधिकार के रूप में इस्तेमाल किया। नौ साल तक डा अशोक चौधरी ने प्रदेश के हर प्रमुख शहर, कस्बे की खाक छानी, वहां की समस्याओं और विशेषताओं को समझा।

अभिनव राजस्‍थान के बारे में पूरी जानकारी का वीडियो कृपया यहां देखें। आपसे आग्रह है कि इस वीडियो को लाईक, सब्सक्राइब जरूर करें ताकि हम इस भी इस अभियान को जारी रख सकें।

दोस्तों के साथ शेयर करें!
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Share on LinkedIn
Linkedin

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,