दोसांझ कलां का बैनेट

बैनेट दोसांज

दिलजीत दोसांज के साथ बैनेट दोसांज

बैनेट दोसांझ पंजाब की माटी से निकला एक और प्यारा गायक है। वह देश का पहला राइजिंग स्टार है क्योंकि उसने 23 अप्रैल 2017 को कलर्स पर प्रसारित पहला राइजिंग स्टार शो जीता।

फगवाड़ा के पास दोसांज कलां गांव में जन्मे बैनेट के लिए गायकी पहला सपना नहीं रही। स्कूल में तो वह हैंडबाल का खिलाड़ी था और परिवार वाले चाहते थे कि वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नाम कमाए। लेकिन शायद यह रास्ता खेलों के बजाय गायकी से निकलना था।

स्कूल और कालेज के बीच के सफर में ही बैनेट के कदम खेल के मैदान से सुरों की वादियों में कब चले गए पता ही नहीं चला। बैनेट ने संगीत का सफर भले ही देर से शुरू किया हो लेकिन अपनी लगन व मेहनत से वह जल्द ही उंचे मुकाम पर पहुंचा। उसने उस्ताद शमशाद अली खां की शार्गिदी में सीखा।

साल 2015 में वह आल इंडिया रेडियो की प्रतियोगिता में पहले स्थान पर रहा था। उसने वायस आफ पंजाब के प्रमुख पांच कलाकारों में उपस्थिति दर्ज करवाई। फिर वह राइजिंग स्टार में आया जहां उसने अपने सुरों की गहराई और आवाज से दर्शकों का दिल जीत लिया। आडिशन से लेकर फाइनल तक बैनेट ने जोरदार प्रदशैन किया। 23 अप्रैल 2017 को उसने यह शो जीता।

जहां तक पढ़ाई का सवाल है तो बैनेट (bannet dosanjh) ने जलंधर के एपीजे कालेज आफ फाइन आर्ट्स से स्नातक की। वह गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी में एमफिल करता है।

यहां यह भी गौरतलब है कि दोसांज कलां गांव ने एक और दोसांज देश को दिया है और वह है दिलजीत दोसांज। बैनेट भी चाहता है कि वह संगीत के जरिए अपने गांव का नाम रोशन करे और उस स्तर तक पहुंचे जहां आज दिलजीत है। वह दिलजीत का फैन है और राइजिंग स्टार में उसने बहुत लंबे समय तक उसने वह टीशर्ट पहनी जिस पर दिलजीत की फोटो थी।

दोस्तों के साथ शेयर करें!
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Share on LinkedIn
Linkedin

Tags: , , ,